CBSE Class 12 History Exam: Analysis by Students

0
235

CBSE Class 12 History Exam was conducted on 03 March 2020 from 10.30 am to 01.30 pm. The Central Board of Secondary Education (CBSE) is holding the CBSE Class 12 board exam from 15 February 2020 to 30 March 2020.

CBSE Class 12 History exam is divided into two parts – Theory (80 marks) and Practical (20 marks). Students said that the paper was neither too tough nor too easy.

CBSE Class 12 History Paper Analysis: कैसा था12वीं इतिहास का पेपर, छात्रों ने दिए ये फीडबैक

CBSE Class 12 History Exam

CBSE Class 12 History exam is divided into two parts – Theory (80 marks) and Practical (20 marks).

Subscribe to Get Updated Information about CBSE Class 12 History Exam: Analysis by Students - Admissions

“The paper was a bit lengthy but I am confident of scoring well,” Sanyukta, who studies in a school in Bhopal.

CBSE Class 12 History question paper was divided into five parts – Section A, B, C, D and E. Section A had 20 questions of one mark each, while Section B carried four questions of three marks each. Section C had three questions of six marks each, while Section D carried three questions of eight marks each. Section E tested maps skills of candidates. The last section contained 6 items of one mark each.

All India Ramayana Quiz Competition Check Now

एपीजे स्कूल के छात्र सौरभ त्रिवेदी ने कहा कि आज का पेपर काफी आसान था और उन्हें सीबीएसई द्वारा जारी किए गए सैंपल पेपर से तैयारी करने से काफी मदद मिली और उन्होंने कहा कि वो अगले पेपर के लिए इन्हीं सैंपल क्वेश्चन पेपर की मदद लेंगे।

जीडी गोयंका स्कूल के छात्र मयंक दुबे ने कहा कि आज इतिहास का पेपर आसान था। पेपर में मैप काफी आसान पूछे गए थे। पूरा पेपर ही आसान था कोई भी सवाल कठिन नहीं था। उन्हे पेपर में 95% अंक आने की उम्मीद है।

SKV स्कूल, खजूरी खास की छात्रा हिमांशी और नरगिस के मुताबिक उन्हें पेपर थोड़ा कठिन लगा। कुछ सवाल उन्हें ट्रिकी लगे जिनका जवाब देने में उन्हें ज्यादा समय खर्च करना पड़ा।

वहीं SKV स्कूल, यमुना विहार की छात्रा आयुषी और अकांक्षा ने कहा कि पेपर में कठिनाई का स्तर औसत था। उन्हें कुछ सवाल कठिन लगे। हालांकि पेपर लंबा था।

बाल भारती स्कूल के छात्र नवनीत ने कहा कि आज का पेपर काफी अच्छा गया लेकिन पेपर काफी लंबा था। पेपर का पैटर्न इस बार पिछले साल के मुकाबले कुछ अलग था। पूरा पेपर एनसीईआरटी की किताबों से पूछा गया था।

अधिकतर छात्रों ने पेपर को आसान बताया लेकिन इतिहास का पेपर होने के कारण छात्रों ने इसे ज्यादा लंबा भी बताया, अधिकतर छात्रों को पेपर में कोई भी सवाल कठिन नहीं लगा। वहीं कुछ छात्रों के मुताबिक मैप सबसे आसान पूछे गए थे।

The next exam is of Marketing and it is slated to be held on 04 March 2020.

CBSE Class 12 History Paper Pattern 2020

The Paper Pattern of the CBSE Class 12th History is given below.

सवाल अंक सवालों की संख्या कुल अंक
ऑब्जेक्टिव सवाल 1 20 20
शॉर्ट आंसर 3 4 12
सोर्स आधारित 6 3 18
लॉन्ग आंसर 8 3 24
मैप आधारित 1 6 6

 

Also read: Class 12th board exam

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here